शिवना साहित्यिकी का वर्ष : 5 अंक : 17 त्रैमासिक : अप्रैल-जून 2020 का वेब संस्करण

मित्रों, संरक्षक एवं सलाहकार संपादक, सुधा ओम ढींगरा, प्रबंध संपादक नीरज गोस्वामी, संपादक पंकज सुबीर, कार्यकारी संपादक, शहरयार, सह संपादक शैलेन्द्र शरण, पारुल सिंह के संपादन में शिवना साहित्यिकी का वर्ष : 5 अंक : 17 त्रैमासिक : अप्रैल-जून 2020 का वेब संस्करण अब उपलब्ध है। इस अंक में शामिल है-  आवरण चित्र  / नीरज गोस्वामी, आवरण कविता  / अजंता देव, संपादकीय / शहरयार, व्यंग्य चित्र / काजल कुमार। पिछले दिनों पढ़ी गई किताबें- निष्प्राण गवाह, क़तार से कटा घर, बंद मुट्ठी, प्रवास में आसपास, वारिसों की ज़ुबानी- सुधा ओम ढींगरा। शोध-आलेख- सुबह अब होती है... तथा अन्य नाटक / जुगेश कुमार गुप्ता, जिन्हें जुर्म-ए-इश्क़ पे नाज़ था  / दिनेश कुमार पाल, खिड़कियों से झाँकती आँखें  / अफ़रोज़ ताज, बंद मुट्ठी / डॉ. विजेंद्र प्रताप सिंह। पुस्तक समीक्षा- ताना-बाना / डॉ. सीमा शर्मा / डॉ. उषा किरण, कुबेर / दीपक गिरकर / डॉ. हंसा दीप, धर्मपुर लॉज / राजीव कार्तिकेय / प्रज्ञा, सच कुछ और था / रेखा भाटिया / सुधा ओम ढींगरा, भूत भाई साहब और अन्य कहानियाँ / डॉ. सीमा शर्मा / प्रियंका कौशल, ख़ुद से गुज़रते हुए / पंकज मित्र / संगीता कुजारा टाक, निन्यानवे का फेर / पंकज सुबीर / ज्योति जैन, सुबह अब होती है तथा अन्य नाटक / पंकज सोनी / नीरज गोस्वामी, दसवीं के भोंगा बाबा / डॉ. हंसा दीप / गोविंद सेन, बारह चर्चित कहानियाँ / प्रो. अवध किशोर प्रसाद / सुधा ओम ढींगरा, पंकज सुबीर, कुछ दुख, कुछ चुप्पियाँ / शहंशाह आलम / अभिज्ञात, परछाइयों का समयसार / कादम्बरी मेहरा / कुसुम अंसल, राम की शक्ति पूजा और कामायनी का नाट्य रूपांतरण / अशोक प्रियदर्शी / कुमार संजय, हरी चिरैया / मनीष वैद्य / संजय कुमार शर्मा, होली / प्रो. अवध किशोर प्रसाद / पंकज सुबीर, विचार और समय / पंकज सुबीर / सुधा ओम ढींगरा। पुस्तक चर्चा- मेरी दस रचनाएँ / डॉ. प्रेम जनमेजय, आशना / डॉ. योगिता बाजपेई ‘कंचन’, मेरी दस रचनाएँ / लालित्य ललित, ग़ज़ल जब बात करती है / डॉ. वर्षा सिंह, दिलफ़रेब / राजकुमार कोरी ‘राज़’, साँची दानं / मोतीलाल आलमचन्द्र, मैं किन सपनों की बात करूँ / श्याम सुन्दर तिवारी। केन्द्र में पुस्तक- पुस्तक : प्रेम की उम्र के चार पड़ाव / समीक्षक : शैलेन्द्र शरण, नीलिमा शर्मा / लेखक : मनीषा कुलश्रेष्ठ, पुस्तक : प्रवास में आसपास / समीक्षक : नीलोत्पल रमेश, दीपक गिरकर / लेखक : डॉ. हंसा दीप, पुस्तक : खिड़कियों से झाँकती आँखें / समीक्षक : दीपक गिरकर, रेनू यादव / लेखक : सुधा ओम ढींगरा, पुस्तक : निष्प्राण गवाह / समीक्षक : शन्नो अग्रवाल, डॉ. मधु संधु / लेखक : कादम्बरी मेहरा, पुस्तक : रात नौ बजे का इन्द्र धनुष / समीक्षक : धर्मपाल महेन्द्र जैन, दीपक गिरकर / लेखक : ब्रजेश कानूनगो, पुस्तक : यायावर हैं, आवारा हैं, बंजारे हैं / समीक्षक : अशोक प्रियदर्शी, धर्मपाल महेन्द्र जैन / लेखक : पंकज सुबीर, पुस्तक : जिन्हें जुर्म-ए-इश्क़ पे नाज़ था / समीक्षक : डॉ. प्रज्ञा रोहिणी, डॉ. सीमा शर्मा, कैलाश मण्डलेकर / लेखक : पंकज सुबीर। आवरण चित्र नीरज गोस्वामी, डिज़ायनिंग सनी गोस्वामी, सुनील पेरवाल, शिवम गोस्वामी। आपकी प्रतिक्रियाओं का संपादक मंडल को इंतज़ार रहेगा। पत्रिका का प्रिंट संस्करण भी समय पर आपके हाथों में होगा।
ऑन लाइन पढ़ें-    
https://www.slideshare.net/shivnaprakashan/shivna-sahityiki-april-june-2020
https://issuu.com/shivnaprakashan/docs/shivna_sahityiki_april_june_2020
साफ़्ट कॉपी पीडीऍफ यहाँ से डाउनलोड करें
http://www.vibhom.com/shivnasahityiki.html

वैश्विक हिन्दी चिंतन की अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका "विभोम-स्वर" का वर्ष : 5, अंक : 17, त्रैमासिक : अप्रैल-जून 2020 अंक का वेब संस्करण

मित्रो, संरक्षक तथा प्रमुख संपादक सुधा ओम ढींगरा एवं संपादक पंकज सुबीर के संपादन में वैश्विक हिन्दी चिंतन की अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका "विभोम-स्वर" का वर्ष : 5, अंक : 17, त्रैमासिक : अप्रैल-जून 2020 अंक का वेब संस्करण अब उपलब्ध है। इस अंक में शामिल है- संपादकीय, मित्रनामा। साक्षात्कार- डॉ. विजय शर्मा Vijay Sharma से सुधा ओम ढींगरा Sudha Om Dhingra की बातचीत। कथा कहानी- गिरेबाँ- सिनिवाली शर्मा Siniwali Sharma , एक पीला उदास आदमी- हर्षबाला शर्मा @Harsh Bala Sharma , और शिलाखण्ड पिघलने लगा- डॉ. पूरन सिंह Puran Singh , फेयरवेल- रेखा राजवंशी Rekha Rajvanshi , एल्युमनी मीट- नीलम कुलश्रेष्ठ Neelam Kulshreshtha , अनुत्तरित प्रश्न- डॉ. प्रदीप उपाध्याय @Pradeep Upadhyay , अकेलापन- डॉ.कुसुम नैपसिक @kusum knapczyk , माँ तुम मदर इंडिया क्यों नहीं बन गई- ममता शर्मा Mamta Sharma , पोस्टमार्टम- विकेश निझावन Nijhawan Vikesh , चाउमिन- मुरारी गुप्ता Murari Gupta । केंद्र में कहानी- आग में गर्मी कम क्यों है?’ डॉ. विजेंद्र प्रताप सिंह @vijendra pratap singh , डॉ. उमा मेहता। लघुकथाएँ- बॉयफ्रेंड- शराफ़त अली ख़ान Sharafat Ali Khan , अहसास- चन्द्रकान्ता अग्निहोत्री Ma Anand Pradeepa । भाषांतर- झूला- मूल मराठी कथा, मूल लेखिका : उज्ज्वला केळकर @ujjawala kelkar , अनुवाद : डॉ. सुशीला दुबे। व्यंग्य- ड्रैस कोड, मदन गुप्ता सपाटू Madan Gupta Spatu । संस्मरण- श्रीकृष्ण सरल ने हास्य कविताएँ भी लिखीं- वीरेन्द्र जैन Virendra Jain । हमारी धरोहर- यादों की धरोहर - मुग्गनी- शशि पाधा Shashi Padha । आलेख- इन्हें प्रवासी कैसे कहूँ?- मधु अरोड़ा Madhu Arora । पहली कहानी- उसका युद्ध- अभिषेक मेवाड़ा @Abhishek Singh Mewada । दोहे- अशोक ‘अंजुम’ Ashok Anjum । ग़ज़ल- विज्ञान व्रत Vigyan Vrat , अनिरुद्ध सिन्हा Anirudh Sinha , दीपक शर्मा दीप दीपक शर्मा 'दीप' । कविताएँ- शैलेन्द्र शरण Shailendra Sharan , मुकेश पोपली मुकेश पोपली , अर्चना गौतम मीरा Archana Gautam , मूसा खान अशांत बाराबंकवी Mohd Moosa Khan Ashant , सन्तोष पाल Santosh Pal , कमलेश कमल @kamlesh kamal । समाचार सार- भूतभाई साहब’ का विमोचन Priyanka Kaushal , निन्यानवे के फेर में’ का विमोचन, डॉ. गरिमा दुबे को मिला सम्मान DrGarima Sanjay Dubey , ‘धर्मपुर लॉज’ का लोकार्पण Pragya Rohini , अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस Shikha Varshney , लिटरेरिया 2019 @नीलांबर कोलकाता
(साहित्यिक सांस्कृतिक संस्था) , सृजन संवाद में कविता पाठ Vijay Sharma , शरद व्याख्यानमाला Jawahar Karnavat , गांधी के डेढ़ सौ साल Manish Vaidya , अरुण अर्णव खरे सम्मानित Arun Arnaw Khare , रामकृष्ण त्यागी स्मृति कथा सम्मान, पं. बृजलाल द्विवेदी सम्मान Sanjay Dwivedi , कार्यशाला, तोमिओ मिज़ोकामी का व्याख्यान Jawahar Karnavat , ‘साहित्य भूषण सम्मान Anita Rashmi ’। आख़िरी पन्ना। आवरण चित्र राजेंद्र शर्मा, रेखाचित्र - अशोक ‘अंजुम’ Ashok Anjum, डिज़ायनिंग सनी गोस्वामी Sunny Goswami , शहरयार अमजद ख़ान Shaharyar Amjed Khan , आपकी प्रतिक्रियाओं का संपादक मंडल को इंतज़ार रहेगा। पत्रिका का प्रिंट संस्क़रण भी समय पर आपके हाथों में होगा।

ऑनलाइन पढ़ें पत्रिका-

https://www.slideshare.net/vibhomswar/vibhom-swar-april-june-2020

https://issuu.com/home/published/vibhom_swar_april_june_2020

वेबसाइट से डाउनलोड करें
http://www.vibhom.com/vibhomswar.html
फेस बुक पर
https://www.facebook.com/Vibhomswar
ब्लाग पर
http://vibhomswar.blogspot.in/
कविता कोश पर पढ़ें
http://kavitakosh.org/kk/विभोम_स्वर_पत्रिका
























शिवना साहित्यिकी वर्ष : 4, अंक : 16 त्रैमासिक : जनवरी-मार्च 2020

मित्रों, संरक्षक एवं सलाहकार संपादक, सुधा ओम ढींगरा, प्रबंध संपादक नीरज गोस्वामी, संपादक पंकज सुबीर, कार्यकारी संपादक, शहरयार, सह संपादक पारुल सिंह के संपादन में शिवना साहित्यिकी का वर्ष : 4, अंक : 16 त्रैमासिक : जनवरी-मार्च 2020 का वेब संस्करण अब उपलब्ध है। इस अंक में शामिल है-  आवरण कविता  / अमृता प्रीतम, संपादकीय / शहरयार, व्यंग्य चित्र / काजल कुमार, स्मृति शेष- स्वयं प्रकाश / वीरेन्द्र जैन, एकाग्र- जयनंदन की कहानियाँ / डॉ. नीलोत्पल रमेश, राकेश मिश्र  की कविताएँ  / डॉ. सीमा शर्मा, पुस्तक समीक्षा- अयोध्या से गुजरात तक- भालचन्द्र जोशी / सुशांत सुप्रिय, बाबाओं के देश में- सूर्यकांत नागर / कैलाश मंडलेकर, नई कोंपलें- पारुल सिंह / मोतीलाल आलमचंद्र, मंच पर उतरी कहानियाँ- अनिता रश्मि / कुमार संजय, आईना किस काम का- अनीता रश्मि / जाबिर हुसैन, हरिद्वार का हरि- गोविन्द सेन / महेश शर्मा, बिन पूँजी का धंधा- दीपक गिरकर / अश्विनी कुमार दुबे, एक पाती ऐसी भी- डॉ. ऋतु भनोट / कृष्णा अग्निहोत्री, कोचिंगञ्चकोटा- नवीन कुमार जैन / अरुण अर्णव खरे, दोहों से दोहा ग़ज़लों तक- डॉ. मधुसूदन साहा / ज़हीर कुरेशी, बेहतरीन व्यंग्य- अरुण अर्णव खरे / प्रभाशंकर उपाध्याय, चलो ! अब आदमी बना जाए- अरुण अर्णव खरे / सतीश श्रीवास्तव ‘नैतिक’, इस ज़िन्दगी के उस पार- संदीप ‘सरस’ / राकेश शंकर भारती, इस समय तक- डॉ. नीलोत्पल रमेश / धर्मपाल महेंद्र जैन, कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न, कारण और निवारण- शैलेन्द्र शरण / शहरयार अमजद ख़ान, पुस्तक चर्चा- ऋणानुबंध / सचिन तिवारी / डॉ. विमलेश शर्मा, शोध आलेख- जिन्हें जुर्म-ए-इश्क़ पे नाज़ था- जुगेश कुमार गुप्ता, प्रतिभा सिंह, डॉ. रश्मि दुधे, लेखक : पंकज सुबीर। आवरण चित्र राजेंद्र शर्मा बब्बल गुरू, डिज़ायनिंग सनी गोस्वामी। आपकी प्रतिक्रियाओं का संपादक मंडल को इंतज़ार रहेगा। पत्रिका का प्रिंट संस्करण भी समय पर आपके हाथों में होगा।
ऑन लाइन पढ़ें-    
https://www.slideshare.net/shivnaprakashan/shivna-sahityiki-jan-mar-2020
https://issuu.com/shivnaprakashan/docs/shivna_sahityiki_jan_mar_2020
साफ़्ट कॉपी पीडीऍफ यहाँ से डाउनलोड करें
http://www.vibhom.com/shivnasahityiki.html

वैश्विक हिन्दी चिंतन की अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका "विभोम-स्वर" का वर्ष : 4, अंक : 16, त्रैमासिक : जनवरी-मार्च 2020

मित्रो, संरक्षक तथा प्रमुख संपादक सुधा ओम ढींगरा एवं संपादक पंकज सुबीर के संपादन में वैश्विक हिन्दी चिंतन की अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका "विभोम-स्वर" का वर्ष : 4, अंक : 16, त्रैमासिक : जनवरी-मार्च 2020 अंक का वेब संस्करण अब उपलब्ध है। इस अंक में शामिल है- संपादकीय। मित्रनामा। साक्षात्कार- रचना श्रीवास्तव से सुधा ओम ढींगरा की बातचीत। कथा कहानी- डेरा उखड़ने से पहले...!, वन्दना अवस्थी दुबे, स्मृतियों के प्रश्नचिह्न- अंशु जौहरी, घास का मैदान- शेर सिंह, जॉन की गिफ़्ट- पुष्पा सक्सेना, सीप में समुद्र- कविता विकास, सीख- डॉ. पुष्पलता, तुम नहीं समझोगे!- राजगोपाल सिंह वर्मा। लघुकथाएँ- अधूरा लेख- ज्योत्सना सिंह, भीड़- जनगणना, पुखराज सोलंकी, बस अपने लिए- डॉ. संगीता गांधी, गिनीपिग्स, ड्रॉबैक- संतोष सुपेकर। भाषांतर- एंटीक फिनिश, मूल तेलुगु कहानी : अरुणा पप्पु, अनुवाद : आर.शांता सुंदरी, यह दूध तुम्हारा- मूल पंजाबी कहानी- कुलवंत सिंह विर्क, अनुवाद- डॉ. अमरजीत कौंके। व्यंग्य- एक्स इंस्पैक्टर मातादीन टेंशन में- अशोक गौतम, पांडेय जी मौसम और मौसिकी- लालित्य ललित। शहरों की रूह- मनभावन शहर सिडनी की कुछ गलियाँ- रेखा राजवंशी। यात्रा वृत्तांत- दर्रों की घाटी लद्दाख- संतोष श्रीवास्तव। हमारी धरोहर- शादी.....मेरी गुड्डी की- शशि पाधा। नाटक- राम की शक्ति पूजा- महाकवि निराला, डॉ. कुमार संजय। ग़ज़ल- नज़्म सुभाष। कविताएँ- प्रमोद त्रिवेदी, शिफाली पांडेय, रेखा भाटिया, सुमित चौधरी, सुमित दहिया, अमृत वाधवा। नव पल्लव- सुप्रीता झा, गर्भनाल-शुभ्रा ओझा, अनूठे जज़्बात- दर्शना जैन, दोहे- यूथिका चौहान। समाचार सार- शांति गया स्मृति सम्मान, हिन्दी पत्र-पत्रिकाओं की प्रदर्शनी, ज्ञान चतुर्वेदी व्यंग्य सम्मान, खंडवा में पुस्तक चर्चा, शमशेर सम्मान, राष्ट्रभाषा भूषण सम्मान, हाउस ऑफ लॉर्ड्स, लघुकथा सम्मेलन, धर्मपाल महेंद्र जैन सम्मानित, कथाक्रम सम्मान, पुस्तकों का लोकार्पण, राष्ट्रीय व्यंग्योत्सव, सृजन संवाद, विमोचन समारोह, आख़िरी पन्ना। आवरण चित्र राजेंद्र शर्मा, रेखाचित्र - अनुभूति गुप्ता, डिज़ायनिंग सनी गोस्वामी, शहरयार अमजद ख़ान, आपकी प्रतिक्रियाओं का संपादक मंडल को इंतज़ार रहेगा। पत्रिका का प्रिंट संस्क़रण भी समय पर आपके हाथों में होगा।
https://www.slideshare.net/vibhomswar/vibhom-swar-jan-march-2020
https://issuu.com/home/published/vibhom_swar_jan_march_2020
वेबसाइट से डाउनलोड करें
http://www.vibhom.com/vibhomswar.html
फेस बुक पर
https://www.facebook.com/Vibhomswar
ब्लाग पर
http://vibhomswar.blogspot.in/
कविता कोश पर पढ़ें
http://kavitakosh.org/kk/विभोम_स्वर_पत्रिका


Hesh Tag Zindagi


नई किताबें




शिवना साहित्यिकी का वर्ष : 4, अंक : 15 त्रैमासिक : अक्टूबर-दिसम्बर 2019

मित्रों, संरक्षक एवं सलाहकार संपादक, सुधा ओम ढींगरा Sudha Om Dhingra , प्रबंध संपादक नीरज गोस्वामी Neeraj Goswamy , कार्यकारी संपादक, शहरयार Shaharyar Amjed Khann , सह संपादक पारुल सिंह Parul Singh के संपादन में शिवना साहित्यिकी का वर्ष : 4, अंक : 15 त्रैमासिक : अक्टूबर-दिसम्बर 2019 का वेब संस्करण अब उपलब्ध है। इस अंक में शामिल है- आवरण कविता / भगवत रावत Pragya Rawat , संपादकीय / शहरयार, व्यंग्य चित्र / काजल कुमार Kajal Kumar , साक्षात्कार - गीताश्री Geeta Shree से पारुल सिंह Parul Singh की बातचीत, पुस्तक चर्चा- हिंदी वृहद् व्याकरण कोश, सचिन तिवारी / डॉ. के.आर. महिया एवं डॉ. विमलेश शर्मा, कहाँ हो तुम / डॉ. रामसिया शर्मा Ramsiya Sharma / भावना भट्ट Bhavna Bhatt , काव्य मंजरी / संदीप सरस Sandeep Saras / सुरेश सौरभ @suresh saurabh , उपनिषद की कहानियाँ / सचिन तिवारी / डॉ. पन्ना प्रसाद। पुस्तक समीक्षा- मन्नत टेलर्स, वंदना वाजपेयी Vandana Bajpai / प्रज्ञा Pragya Rohini, ग़ाफ़िल, प्रकाश कांत Prakash Kant / सुनील चतुर्वेदी Sunil Chaturvedi, पालतू बोहेमियन, कमलेश पाण्डेय Kamlesh Pandey / प्रभात रंजन Prabhat Ranjan , झरोखा, अपर्णा भटनागर / पंकज त्रिवेदी Pankaj Trivedi , चौधराहट, नीलोत्पल रमेश @nilotpal ramesh / जयनंदन Jai Nandan , कितने अभिमन्यु, वेदप्रकाश अमिताभ @ved prakash amitabh / योगेंद्र शर्मा Yogendra Sharma , जागती आँखों का सपना, डॉ. रमाकांत शर्मा / मंजुश्री Manju Shri , कच्चा रंग, डॉ. अनीता कपूर Anita Kapoor / डॉ. पल्लवी शर्मा Pallavi Sharma , नव अर्श के पाँखी, सुभाष काबरा @subhash kabra / अनुपमा श्रीवास्तव अनु श्री अनु श्री, यादों के दरीचे, माधुरी / प्रभाशंकर उपाध्याय @prabhashankar upadhyay , चुप्पियों के बीच नीरज नीर Neeraj Neer / डॉ. भावना कुमारी @bhawna kumari । शोध आलेख- गांधी की पत्रकारिता का भारतीय मॉडल डॉ. कमल किशोर गोयनका Kamal Kishore Goyanka । फ़िल्म समीक्षा- मेकिंग आफ महात्मा, वीरेन्द्र जैन Virendra Jainn / निर्देशकः श्याम बेनेगल। केंद्र में पुस्तक- जिन्हें जुर्म-ए-इश्क़ पे नाज़ था, पंकज पराशर Pankaj Parashar , मनीषा कुलश्रेष्ठ Manisha Kulshreshtha , शुभम तिवारी Shubham Tiwari , ब्रजेश राजपूत Brajesh Rajput , कविता वर्मा Kavita Verma , दिनेश पाल Dinesh Pal । लेखक : पंकज सुबीर। आवरण चित्र राजेंद्र शर्मा बब्बल गुरू, डिज़ायनिंग सनी गोस्वामी Sunny Goswamii। आपकी प्रतिक्रियाओं का संपादक मंडल को इंतज़ार रहेगा। पत्रिका का प्रिंट संस्करण भी समय पर आपके हाथों में होगा।
ऑन लाइन पढ़ें-
https://www.slideshare.net/shivnaprakashan/shivna-sahityiki-oct-dec-2019

https://issuu.com/home/published/shivna_sahityiki_oct_dec_2019

साफ़्ट कॉपी पीडीऍफ यहाँ से डाउनलोड करें

http://www.vibhom.com/shivnasahityiki.html